मेरे आराध्य शिव : शिव संपूर्ण विश्व के न केवल आराध्य हैं अपितु वह सृष्टि रचना के मूल आधार है

पुस्तक समीक्षा उमेश कुमार सिंह भगवान शिव त्रिनेत्रधारी हैं। त्रिकालदर्शी हैं। त्रिलोकी हैं। त्रिदेव हैं। जिनकी…

पुस्तक समीक्षा : व्यक्तित्व-विकास के लिए अनुभवी लेखक की महत्वपूर्ण कृति 

स्वर्णिम-जीवन के अनमोल टिप्स ‘”बेशक हम होंगे सफल“ उमेश कुमार सिंह मानवीय व्यत्तिफत्व को निखारने के उद्देश्य…

पुस्तक समीक्षा : रिंकल शर्मा द्वारा रचित “बुरे फंसे” पुस्तक आज के नीरस जीवन में रस भरने का काम कर सकती है

आकांक्षा प्रिया पिछले दिनों मेरे द्वारा पढ़ी जाने वाली पुस्तक रही “बुरे फंसे”, जो कि एक हास्य…

आदतें ही आदमी का व्यक्तित्व बनाती हैं

उमेश कुमार सिंह येस! इट मैटर्स हर इंसान के जीवन में कुछ अच्छी आदतें होती है…

काव्य पुस्तक ‘गीत रसाल’ का भव्य लोकार्पण हुआ संपन्न

समृद्ध साहित्यिक अतीत से उद्भूत नवीन गीतों का कवि ने किया है मनोहारी अलंकरण – प्रकाशक…

सारा खेल सत्ता का है……..

सारा खेल सत्ता का है हमें भीख में नहीं मिली अयोध्या, बड़ी भारी तपस्या से पाया…

उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस -2024

“उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस-2024″(24-26 जनवरी)के आयोजन की थीम “उत्तर प्रदेश की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत” से प्रदेशवासियों…

प्राचीन भारतीय साहित्य  में रामकथा व जन-जन के राम

*डॉ0 पंकज कुमार*(लेखक व विशेषज्ञ)       भारतीय जनमानस में ‘रामकथा’ एक ऐसा प्रेरक प्रकाशपुंज है, जो…

‘‘सब बने राम इस पर विचारें जरा, ले चरण रज स्वयं को सवारें जरा’’: सुनील कुमार सेठ

‘उद्गार’ की 92वीं गोष्ठी ‘गीतों में राम’ संपन्न वाराणसी। उद्गार साहित्यिक, सांस्कृतिक व सामाजिक संगठन की…

मेरे आराध्य राम पुस्तक का लोकार्पण समारोह

यत्र तत्र सर्वत्र मेरे आराध्य राम नई दिल्ली :  इंडिया इंटरनेशनल सेंटर (ICC ANNEX) बेसमेंट लेक्चर हाल में…